Tuesday, 9 April 2013

दिग्विजय सिंह .... मोदी जी की शादी नही हुई थी .. सगाई हुई थी और वो भी सिर्फ चार साल की उम्र में .. लेकिन इससे देश को कुछ लेना देना नही है ... देश को अगर लेना देना है तो इन नापाक, गंदे और घिनौने रिश्तो से .... जरा इन पर भी जबाब देना



१- सोनिया गाँधी से क्वात्रोची का क्या रिश्ता था ? जहाँ तक पूरी दुनिया जानती है वो सोनिया गाँधी के रिश्ते में दूर दूर तक कुछ नही लगता था ... फिर वो किस रिश्ते से सोनिया गाँधी के घर में १० सालो तक रहा ??

२- सोनिया का आखिर क्वात्रोची से कौन सा रिश्ता था की उसे बचाने ले लिए सोनिया ने पूरी भारत के कानून का मजाक बना दिया था ?

३- अगर रिश्ते की बात करते हो तो मेनका गाँधी तो इंदिरा गाँधी की सगी बहु थी .. उनके एक साल के बच्चे के साथ इंदिरा ने रात को क्यों हमेशा के लिए घर से बाहर निकाल दिया ?

४- जवाहरलाल नेहरु अपनी पत्नी जो टीबी की मरीज थी उन्हें इलाहबाद में क्यों रखते थे ? उन्हें कभी भी अपने पास क्यों नही रखा ? नेहरु दिल्ली में एडविना से इश्क फरमाते थे | इस बात का जिक्र खुद इंदिरा गाँधी ने अपनी किताब में भी किया है ..
इंदिरा गाँधी की सहेली पुपुल जयकर ने भी लिखा है की इंदिरा अपने बाप जवाहर के द्वारा अपनी माँ की उपेछा और एडविना के साथ उनके अवैध सम्बन्ध से बहुत परेशान रहती थी |

५- खुद इंदिरा गाँधी जब प्रधानमन्त्री बन गयी तब अपने पति फिरोज को लात मारकर घर से भगा दिया और उनके मरने पर उसके अंतिम संस्कार तक में नही गयी | दिग्गी राजा क्या कोई एक भी भारतीय नारी का नाम बता सकते हो जो अपने पति के अंतिम संस्कार ने न जाये ??

७- खुद इंदिरा ने पहली शादी अपने साथ पढने वाले मुहम्मद युनुस से लन्दन की एक मस्जिद में मैमुदा बेगम बनकर की थी ... मुसलमानों के मसीहा जवाहर बहुत परेशान हुए क्योकि उनकी इकलौती बेटी इस्लाम कुबूल करके मुसलमान बन गयी थी ... फिर गाँधी के द्वारा इंदिरा को समझाया गया और सर तेज बहादुर सप्रू के द्वारा इलाहबाद हाईकोर्ट में एक एफिडेविट इंदिरा के तरफ से डाला गया की मैने जो मैमुदा बेगम बनकर निकाह किया है उसे फेक घोषित किया जाये ..


८- दिग्गी राजा सारा दिन अब दुसरो पर बोलते रहते हो .. कभी कांग्रेस के दामाद राजा पर भी बोला करो ..

आखिर क्या कारण रहा की प्रियंका गाँधी के शादी के बाद राबर्ट बढेरा ने बकायदा पेपर में विज्ञापन देकर जिसमे उसने अपने बाप का फोटो तक छपवाया था घोषणा किया की मेरे सगे बाप से मेरा कोई सम्बन्ध नही है ...
फिर एक के बाद राबर्ट की बहन एक्सीडेंट में मरी , भाई और बाप होटल में मरे पाए गये ..माँ छत से गिरकर मरी .. एक भाई का आजतक कुछ पता नही की जिन्दा है भी या नही


दिग्विजय सिंह ... ठीक है की तुम्हारी पार्टी ने मीडिया को खरीद लिया है जो तुम्हारे बकवास को दिखाती रहती है ....
लेकिन काश वही मीडिया तुमसे कभी इन सवालों पर भी पूछने की हिमत्त करती

**********जितेन्द्र प्रताप सिंह ***********

3 comments:

vijay sonavane said...

bhai is bikau media se aise ummid matlab chor ko bolna ki khajane ki rakhwali karna....

Vivek Awasthi said...

Bhai, lagta hai apko ki iss chor media and mahachor sarkar ke mahachor lutero se koi umeed ki ja sakti hai...

Is bemaari ke liye ek Ayurvedic snatandharmi dawai hai.,.

Sirf Mananiy Narendra Modi ji

vivek sharma said...

BHAI JI APKI BAT TO THIK HAI BUT PROBLEM YE HAI KI MODI JI KEVL EK HI SEAT PR ELECTION LAD SKTE HAI, OR PM BNANE K LIYE PURI TEAM KI JARURT H. BUT WO TEAM ABHI BJP ME NAJAR NHI AA RHI H. ABHI TO ADVANI JI K EGO PROBLEM HI SOLVE NI HO RHI.....