Saturday, 16 June 2012

प्रियंका गाँधी ने शिमला के पास कुफरी मे बन रहे अपने सपनों के महल को पसंद नही आने पर पांचवी बार पूरी तरह जमींदोज करवा दिया |


मित्रों, बचपन की सुनी एक कहानी याद आ गयी | एक बार एक आदमी अपने फिजूलखर्च बेटे को पांच रूपये दिये और कहा बेटा जा इसे कुँए मे फेक दे .. बेटा तुरंत फेक दिया ... ऐसा उस बाप ने तीन चार बार अपने बेटे को पैसा देता और कहता जा बेटा कुँए के फेक दे और बेटा आराम से फेक देता |
फिर दो दिन के बाद बाप ने बेटे से कहा जा बेटा थोडा पैसा तू खुद कमाकर ला ..बेटा स्टेशन गया और कुली का काम करके पांच रूपये कमाए . फिर बाप ने कहा बेटा जा अब इस पैसे को कुँए मे फेक दे .. बेटा रोने लगा और कहा पापा मैंने ये पैसे बहुत मेहनत से पसीना बहाकर कमाए है मै इन्हें कैसे फेक दूँ ?
इस पर पिता ने कहा बेटा अब सोचो मै कितने मेहनत से पैसे कमाता हूँगा ?
मित्रों, ठीक यही हाल इस नकली नीच गाँधी खानदान का है .. ये अगर अपने मेहनत से पैसे कमाए तो इन्हें पता चले की पैसे का क्या कीमत होता है |

अब तक प्रियंका ने अपने सपनों के महल पर दो सौ करोड रूपये खर्च कर चुकी . लेकिन उनको पांच बार जमींदोज करवा दिया |

एक बार तो उनको बाथरूम छोटा लगा तो उन्होंने डायनामाइट से पूरा बन चूका बंगला उडवा दिया . प्रियंका गाँधी के इस तरह बने बनाये बंगले को पांच पांच बार तोड़े जाने पर हिमाचल सरकार ने कड़ी आपत्ति जताई है | मुख्यमंत्री ने धूमल ने कहा की एक तरफ भारत के २०% लोग छत के लिए तरस रहे है और वही दूसरी तरफ प्रियंका गाँधी खुलेआम पैसों की बर्बादी कर रही है .. जितना सीमेंट प्रियंका गाँधी ने बर्बाद किया उतने मे २०० घर बन सकते थे |

मित्रों, प्रियंका गाँधी के इस सपने के बंगले के लिए हिमाचल की पूर्व कांग्रेस सरकार ने सारे नियम कानून , सारे पर्यावरण कानूनों की धज्जियाँ उड़ा कर चार चार पहाडियों को पूरे तीन महीनों तक डायनामाइट के ब्लास्ट से उडाकर जमीन दिया था |

इस बंगले के लिए तात्कालीन कांग्रेसी हिमाचल सरकार ने रातोंरात अपने पांच कानूनों को बदल दिया था .. और इतना ही नही बिना विधानसभा की मंजूरी से हिमाचल पर्यावरण एक्ट को बदल दिया था |

सोनिया गाँधी खुद दो दो बार प्रियंका के सपनों के बंगले का निरीक्षण करने जा चुकी है |
गरीबो के नाम पर बड़ी बड़ी बाते करने वाला ये दोगला खानदान पैसे की क्या इज्जत करता है ये अब देश की जनता जान चुकी | असल मे इनको कभी मेहनत से तो पैसे कमाने नही पड़ते . इन्होने इस देश को इस कदर लुटा है और अभी भी लूट रहे है इसलिए इनको पैसे के महत्व के बारे मे क्या सोचना ?

मित्रों, असल मे ये नकली गाँधी खानदान अपने आपको इस देश का राजा समझता है और सारे कांग्रेसी मुख्यमंत्री, मंत्री आदि उसके दरबार के पालतू कुत्ते जैसे ही है .. जैसे कुत्ता अपने मालकिन को देखकर दूम हिलाता है वैसे ही सारे कांग्रेसी अपनी इस मालिकन के सामने सिर्फ दूम हिलाते है

अगर कोई बीजेपी का नेता अपने बंगले को पांच पांच बार जमींदोज करता तो आज क्या भारत की नीच मीडिया खामोश रहती ?

भारत के सारे टीवी चैनेल आज कांग्रेस के पालतू कुत्ते जैसे व्यहार करने लगे है .. इनको समय समय पर चबाने के लिए बोटी चाहिए जो सोनिया इनके सामने फेकती रहती है |


किसी भी मीडिया ने इस खबर को नही दिखाया .. लेकिन कुछ अखबारों मे किसी कोने के ये खबर जरूर छपी है आप गूगल पर जाकर विस्तृत जानकारी ले सकते है |
http://www.deccanherald.com/content/155711/priyankas-summer-cottage-being-dismantled.html
http://india.nydailynews.com/article/56ce647f411e092a28f27f494899516f/priyanka-s-dream-cottage-to-come-up-again

1 comment:

pramodsongra pandey said...

Aise hi nahi desh ka garib bhookho mar raha hai .....our ye kamine beparwah desh ko lootate chale ja rahe hai...